पपीता भाग 1 पूर्व रोपण प्रशिक्षण | Papaya Section 1 Pre-Plantation

यहाँ रोपण से पहले कोनसी चीजों का ध्यान रखना चाहिए उसकी सूची दी है.

पपीता भाग 2 पपीता का रोपण करते समय | Papaya Section 2 During-Plantation

इस विभाग में पपीता उगाने के बारे में पूरा मार्गदर्शन किया गया है।

पपीता भाग 3 पपीता लगाने के बाद | Papaya Section 3 After-Plantation

पपीता लगाने के बाद कोनसी बातो का ध्यान रखना है, इसकी विस्तृत जानकारी इस सत्र में दी गई है।

पपीता भाग 4 सफलता की कहानी | Papaya Section 4 Success Story

जिद , मेहनत और परिश्रम के जोर पर अप्रतिकुल परिस्थितिमें लुप्तप्राय कृषि व्यवसाय में आश्चर्यजनक प्रगति करके अपना विकास करनेवाले किसान
Part 1.2 | Land Selection | भूमि का चयन

पपीते की खेती के लिए हल्की से मध्यम भार वाली भूमि योग्य होती है। इसके अलावा मध्यम काली ज़मीन भी पपीता की फसल के लिए सही मानी जाती है। पपीता की जड़ें मिट्टी में 45 सेंटीमीटर गहरी हो जाती है। जहाँ पपीते के पौधे लगे हों वहां पर मिट्टी, पानी सोखने वाली होनी चाहिये । जमीन का स्तर 6.5 से 7.2 सामु (ph) फसल के लिए चुन सकते हैं।

कीचड़ वाली मिट्टी और पहाड़ी ज़मीन पर पपीते की फसल ना करें क्योंकि इस जगह पर पेड़ो की जड़ें ठहरे हुवे पानी से सड़ जाती है और धीरे धीरे पूरा पेड़ ही ख़राब हो जाता है। इसके-लिए पपीते की फसल के लिए रेत मिश्रित पोलटा मिट्टी उपयुक्त है। जहाँ पानी ठहरता हो वो ज़मीन पपीते की फसल के लिए सही नहीं होती है।

Wishlist 0
Open wishlist page Continue shopping